BJP-कांग्रेस में से जो भी जीते चुनाव… महिलाओं की होगी चांदी, कहीं मिलेंगे 30 तो कहीं 10 हजार, जानें किस राज्य में क्या है वादा

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

Assembly Election 2023: मध्य प्रदेश और राजस्थान दोनों में महिला मतदाताओं की संख्या पुरुषों से अधिक है. लेकिन एक महिला के तौर पर आपको सरकार से कितना पैसा मिलेगा यह न सिर्फ इस पर निर्भर करता है कि आप किस चुनाव वाले राज्य में रहती हैं, बल्कि इस बात पर भी निर्भर करता है कि 3 दिसंबर को सत्ता में कौन सी पार्टी आएगी. कांग्रेस ने तेलंगाना में महिलाओं के लिए 30,000 रुपये प्रति वर्ष, मध्य प्रदेश में महिलाओं के लिए 18,000 रुपये, छत्तीसगढ़ में 15,000 रुपये और राजस्थान में 10,000 रुपये देने का वादा किया है.

भाजपा फिलहाल मध्य प्रदेश में महिलाओं को सालाना 15,000 रुपये दे रही है और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वादा किया है अगर पार्टी सत्ता में लौटती है तो इसे बढ़ाया जाएगा और 36,000 रुपये प्रति वर्ष दिए जाएंगे. भाजपा ने राज्य में सत्ता में आने पर छत्तीसगढ़ में महिलाओं को प्रति वर्ष 12,000 रुपये देने का भी वादा किया है. लेकिन दिलचस्प बात यह है कि बीजेपी ने 3 दिसंबर को इन राज्यों में सत्ता में आने पर राजस्थान और तेलंगाना में महिलाओं के लिए कोई पैसा देने का वादा नहीं किया है.

News18 ने भाजपा और कांग्रेस दोनों के नेताओं से बात की, और उन्होंने बताया कि यह निर्णय किसी विशेष राज्य की प्रति व्यक्ति आय पर, उस राज्य में मौजूद राजकोषीय घाटा पर आधारित है. उदाहरण के लिए, एक वरिष्ठ भाजपा नेता ने News18 को बताया कि वे राजस्थान जीतने के प्रति आश्वस्त थे, लेकिन तेलंगाना में जीत को लेकर उतने नहीं. इसलिए ऐसा हुआ कि दोनों राज्यों में से किसी में भी महिलाओं के लिए कोई मौद्रिक भत्ता नहीं दिया गया. उऩ्होंने कहा, “हमने राजस्थान में बालिकाओं के लिए एकमुश्त धनराशि की पेशकश की है. मध्य प्रदेश में बहुत करीबी मुकाबला है, इसलिए दोनों पक्ष महिला वोटरों को लुभाने में लगे हैं.” बीजेपी नेता ने बताया, “CM लाडली बहना योजना’ के तहत हमारा वादा कांग्रेस की पेशकश से लगभग दोगुना है.”

दूसरा कारण प्रतिस्पर्धी राजनीति है. छत्तीसगढ़ में पहले चरण के मतदान तक न तो भाजपा और न ही कांग्रेस ने महिलाओं के लिए कोई आर्थिक भत्ता देने की पेशकश की थी. राज्य में दूसरे चरण के मतदान से कुछ ही दिन पहले भाजपा ने सत्ता में आने पर महिलाओं के लिए 12,000 रुपये प्रति वर्ष की सहायता की घोषणा करके सभी को आश्चर्यचकित कर दिया था. सत्तारूढ़ कांग्रेस को दूसरे चरण के मतदान से दो दिन पहले यह वादा करने के लिए मजबूर होना पड़ा कि अगर वह सत्ता में आती है तो महिलाओं को प्रति वर्ष 15,000 रुपये देगी. मध्य प्रदेश में भी, सीएम चौहान द्वारा इसी तर्ज पर अपनी ‘लाडली बहना योजना’ शुरू करने से पहले कांग्रेस ने महिलाओं को प्रति वर्ष 18,000 रुपये देने का वादा किया था.

BJP-कांग्रेस में से जो भी जीते चुनाव... महिलाओं की होगी चांदी, कहीं मिलेंगे 30 तो कहीं 10 हजार, जानें किस राज्य में क्या है वादा

तेलंगाना में महिलाओं के लिए अब तक की सबसे बड़ी आर्थिक पेशकश देखी गई है, जहां कांग्रेस ने प्रति वर्ष 30,000 रुपये देने का वादा किया है, जो कि कांग्रेस द्वारा कर्नाटक में महिलाओं को दिए जाने वाले 24,000 रुपये प्रति वर्ष से भी अधिक है. हिमाचल प्रदेश में, जहां इस साल की शुरुआत में चुनाव हुए थे, कांग्रेस ने अपने चुनावी वादे के मुताबिक महिलाओं को प्रति वर्ष 18,000 रुपये देना शुरू कर दिया है.

Tags: Assembly Elections 2023, Indian women, Madhya Pradesh Assembly Elections 2023, Rajasthan elections

Source link

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer