महिला थाना में वाहन कोषांग प्रभारी ने क्यों दे दी अपनी जान? जांच में जुटे अधिकारी

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

आशीष रंजन/भागलपुर. बिहार के भागलपुर में एक ऐसी घटना घटी जिससे पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. दरअसल, महिला थाना के ऊपरी मंजिल के बैरक में एमटी प्रभारी ने फंदे से लटककर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली. महिला थाना के ऊपर बैरक में एमटी प्रभारी अभिषेक कुमार का शव पंखे से लटका हुआ मिला. इसके बाद पुलिस महाकमे में यह सूचना आग की तरह फैल गई.

मामले की सूचना पर पूर्वी क्षेत्र के पुलिस उप महानिरीक्षक विवेकानंद, एसएसपी आनंद कुमार व सिटी एसपी अमित रंजन दल बल के साथ मौके पर पहुंचे, फिर कमरे में जाकर जांच की. इसके बाद एफएसएल की टीम को बुलाया गया. उक्त टीम साक्ष्य को जुटाने और मामले की जांच की. कमरे से सैम्पल को भी उठाया गया. मिली जानकारी के अनुसार, कमरे से कोई भी सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है.

मृतक अभिषेक गया जिले के चेरकी थाना क्षेत्र के जमरी गांव के निवासी थे और भागलपुर जिले में वह वाहन कोषांग शाखा में प्रभारी के पद पर तैनात थे. मामले को लेकर डीआईजी विवेकानंद ने बताया कि घटना का कारण स्पष्ट नहीं हो पा रहा है, क्योंकि कमरे से कुछ बरामद नहीं हुआ है. वहीं कल रात उनके एक भाई भी उनके कमरे में आए थे जो सुबह चले गए थे. वहीं रात में वह गश्ती पर थे सुबह सहकर्मियों से उसकी बात भी हुई है. उसके बाद किसी कार्य के लिए फिर जब अभिषेक को खोजा जाने लगा तो वह नहीं मिले.

बताया जा रहा है कि साथियों ने कमरा बंद पाया तो खुलवाने की कोशिश की गई, लेकिन कोई चहलकदमी नहीं हुई. इसके बाद अनहोनी की आशंका होने पर दरवाजा को तोड़कर देखा गया तो वह पंखे में लटका हुआ मिला. वहीं, एमटी प्रभारी की मौत के बाद पुलिस के जवान और पदाधिकारी दबी जुबान में पुलिस लाइन के एक पदाधिकारी के द्वारा परेशान किए जाने की बात की चर्चा कर रहे हैं. मृतक के परिजन गया से भागलपुर के लिए निकल गए हैं. अब देखने वाली बात है कि परिजन क्या कहते हैं और जांच में क्या बातें सामने आती हैं.

Tags: Bhagalpur news, Bihar latest news, Bihar News

Source link

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer