कार्तिक पूर्णिमा: मोक्षदायिनी चंद्रभागा नदी में हजारों श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी, उमड़ा भक्तों का सैलाब

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

हाइलाइट्स

चंद्रभागा नदी के तट पर उमड़े श्रद्धालु
कार्तिक पूर्णिमा पर श्रद्धालुओं ने किया पवित्र स्नान
हाड़ौती की पवित्र गंगा मानी जाती है चंद्रभागा नदी

झालावाड़. झालावाड़ जिले के झालरापाटन शहर में बहने वाली मोक्षदायिनी चंद्रभागा नदी में आज कार्तिक पूर्णिमा पर सुबह से पवित्र स्नान किया जा रहा है. हाड़ौती की गंगा कही जाने वाली पवित्र चंद्रभागा नदी में स्नान के लिए पौ फटते ही श्रद्धालुओं का झालरापाटन पहुंचना शुरू हो गया था. हाड़ौती समेत सीमावर्ती मध्यप्रदेश के कई इलाकों से श्रद्धालु आस्था की डुबकी लगाने चंद्रभागा नदी के तट पर पहुंचकर पवित्र स्नान करके पुण्य लाभ ले रहे हैं. इस दौरान बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने नदी के तट पर स्थित चंद्रमौलेश्वर मंदिर में भी दर्शन कर पूजा-अर्चना की.

वहीं मेले में भारी संख्या में पहुंच रहे श्रद्धालुओं की सुरक्षा की सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए पुलिस- प्रशासन ने नदी के किनारों व घाटों पर अतिरिक्त पुलिस जाब्ता व गोताखोरों को तैनात किया है. इसके अलावा असामाजिक तत्वों पर नजर रखने के लिए सादा वर्दी में भी पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं. साथ ही झालरापाटन पहुंचने वाले श्रद्धालुओं के लिए विभिन्न स्थानों पर स्वयंसेवी व धार्मिक संस्थाओं द्वारा भंडारों का भी आयोजन किया जा रहा है.

राजा चंद्रसेन का कुष्ठ रोग मिटाने धरती पर उतरी थी मां चंद्रभागा
गौरतलब है कि झालावाड़ जिले के झालरापाटन शहर में बहने वाली पवित्र चंद्रभागा नदी का विशेष धार्मिक एवं पौराणिक महत्व माना गया है. शास्त्रों के अनुसार कार्तिक पूर्णिमा की रात्रि में ही मालवा के राजा चंद्रसेन का कुष्ठ रोग नष्ट करने के लिए मां चंद्रभागा भगवान शिव की भक्ति से प्रसन्न होकर धरती पर अवतरित हुई थी जिनके पवित्र जल में स्नान करने से राजा चंद्रसेन का कुष्ठ रोग नष्ट हुआ था. तभी से कार्तिक पूर्णिमा पर झालरापाटन में पवित्र स्नान की परंपरा है.

रविवार को आयोजित हुआ था दीपदान महोत्सव
चंद्रभागा नदी के तट पर आयोजित होने वाले राज्य स्तरीय कार्तिक मेले की पूर्व संध्या पर पर्यटन विभाग द्वारा दीपदान व महाआरती का आयोजन किया गया था. इसके अलावा झालरापाटन के द्वारिकाधीश मंदिर से चंद्रभागा नदी के तट तक भव्य शोभायात्रा निकाली गई थी. वहीं रविवार की सुबह सर्वधर्म सभा और हेरिटेज वॉक का आयोजन भी किया गया था. इस दौरान राजस्थानी लोक कलाकारों द्वारा सुंदर प्रस्तुतियां दी गई थीं.

Tags: Culture, Jhalawar news, Rajasthan news, Tourist places in rajasthan

Source link

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer